शनि धाम के दर्शन मात्र से होती है दरिद्रता दूर….

maxresdefault

समस्तह संसार शनि देव की महिमा से परिचित है। शनि देव की कृपा से मनुष्य। पल में रंक से राजा बन जाता है तो वहीं इनका प्रकोप होने पर राजा के रंक बनने में देर नहीं लगती। शनिदेव को नाराज़ करने की हिम्मलत किसी में भी नहीं है। इनके नाम से ही लोग कांपने लगते हैं। शनि देव के प्रकोप को तो सभी जानते हैं इसलिए इनको शांत रखने के लिए मनुष्यस हरसंभव प्रयास करते हैं।

एक बार नहीं कई बार हुई थी रावण की हार…

शनि देव को समर्पित सबसे पावन स्थ ली है शनि शिंगणापुर। शनि शिंगणापुर मंदिर का अलग ही महत्व है। इस गांव में रहने वाले भक्तों का विश्वा।स है कि शनि देव उनकी रक्षा करेंगें अर्थात् गांव के किसी भी घर में दरवाजा नहीं है।
5.5 फुट की ऊंचे काले रंग का एक विशाल पत्थर शनि देवता के प्रतीक के रूप में खुले आकाश के नीचे एक चबूतरे पर अवस्थित है। धूप हो या आंधी, सर्दी हो या बरसात, शनिदेव बिना छत के संगमरमर पर विराजमान रहते हैं। साथ में उनके पास भगवान शिव और हनुमान की प्रतिमा भी स्थापित है।

सरकारी नौकरी : मेहनत या किस्‍मत…

शनि शिंगणापुर न केवल एक धार्मिक स्थल है अपितु यह पर्यटकों के बीच भी काफी लोकप्रिय है। महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले में स्थित शनि शिंगणापुर की महिमा पूरे देश में फैली हुई है।

आगे पढ़िए 

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s